ताज़ा खबरेंदिल्लीदेशप्रदेश

42 हजार आशाकर्मी कोविड-19 का मुकाबला करने में राज्य की एक महत्वपूर्ण स्तंभ बनकर उभरी-HNA

कर्नाटक(संजना)|    अन्‍नपूर्णा कर्नाटक के शिवमोगा जिले के तुंगानगर में काम करने वाली एक आशा कार्यकर्ता है। वह सरकार द़वारा शुरू किए गए राष्‍ट्रीय स्‍वास्‍थ्‍य मिशन के तहत शहरी क्षेत्रों में आशा कार्यकताओं को काम पर लगाने के बाद से तुंगानगर के 3 हजार आबादी वाले झुग्‍गी-बस्‍ती इलाके में 2015 से काम कर रही है। उसका मुख्‍य कार्य कोविड से जुड़ी गतिविधियों के तहत घर-घर जाकर सर्वे करना है। बता दें की कर्नाटक की 42,000 आशा कार्यकर्ता कोविड-19 का मुकाबला करने में राज्य के सफल प्रयासों की एक महत्वपूर्ण स्तंभ बनकर उभरी हैं। ये कार्यकर्ता दूसरे राज्‍यों से आने वाले यात्रियों, प्रवासी श्रमिकों और समुदाय के अन्य लोगों में कोविड-19 के लक्षणों का पता लगाने के लिए सक्रिय रूप से घरेलू सर्वेक्षण और स्क्रीनिंग के कार्यों में भाग ले रहे हैं। इन्‍होंने आबादी के कुछ विशेष समूहों में कोविड संक्रमण के खतरे की ज्‍यादा संभावना का पता लगाने के लिए घर-घर जाकर वहां रहने वाले बुजुर्गों, पहले से कई बीमारियों से पीडि़त लोगों और इम्‍यूनो वाले व्‍यक्तियों की पहचान करने के लिए करीब 1 करोड़ 59 लाख परिवारों का सर्वेक्षण किया। इतना ही नहीं आशा कार्यकर्ता नियमित रूप से अपने क्षेत्रों में ऐसे उच्च जोखिम वाले समूहों की निगरानी करते हैं और इसके तहत कंटेनमेंट जोन वाले इलाकों में प्रति दिन एक बार और गैर कंटेनमेंट जोन वाले इलाकों में पन्‍द्रह दिन में एक बार हालात का जायजा लेने जाते हैं। इस दौरान वे ILI/SARI लक्षणों और उच्च-जोखिम वाले ऐसे व्यक्तियों की स्‍वास्‍थ्‍य संबंधी परेशानियों का पता लगाने के लिए भी उनके घर जाते हैं जिन्‍होंने राज्‍य के स्‍वास्‍थ्‍य विभाग को फोन कर मदद मांगी हो। आशा कार्यकर्ता कोविड-19 और गैर कोविड-19 से संबंधित जनता की शिकायतों के समाधान के लिए ग्राम पंचायत स्तर पर पंचायत विकास अधिकारी (POD) की अध्यक्षता वाले ग्रामीण कार्य बल का हिस्सा हैं। शहरी क्षेत्रों में काम करने वाली आशाकर्मी बुखार जांच क्लीनिक और स्वाब संग्रह केंद्रों से जुड़ी विभिन्न जागरूकता गतिविधियों के प्रसार में सबसे आगे रही हैं। उन्होंने शहरी क्षेत्रों में ILI और SARI के मामलों की भी सक्रिय रूप से जांच की हैं। वे अंतर्राष्ट्रीय और अंतरराज्यीय चेक-पोस्ट पर तैनात स्क्रीनिंग दल का भी हिस्‍सा हैं।

Related Articles

Leave a Reply

Your email address will not be published. Required fields are marked *

Back to top button
Close
Close